2 C
Munich
Thursday, December 1, 2022

चोलापुर में शांति सद्भावना का सन्देश लिए पदयात्रा पहुँची स्थानीय ब्लॉक के रौना कला गाँव

Must read

Advertisement
Advertisement

चोलापुर-/संसद वाणी

चोलापुर क्षेत्र में साझा सांस्कृतिक मंच ,जन आंदोलनों का राष्ट्रीय समन्वय के तत्वावधान में पदयात्रा के 7 वे दिन वाराणसी जिले के चोलापुर ब्लॉक में पहुँची जहाँ चोलापुर पंचायत भवन पर शांति सद्भावना यात्रियों का ग्राम पंचायत और संगठन के द्वारा भव्य रूप में स्वागत किया गया शांति सद्भावना यात्रा,जाति धर्म से ऊपर उठकर भाईचारा प्रेम का संदेश देने के उद्देश्य 9 दिवसीय शांति सद्भावना पदयात्रा कबीर से बुद्ध तक सारनाथ स्थल पर 5 नवंबर को समापन किया जाएगा। जिसमें शांति सद्भावना पदयात्रा का आज सातवां दिन है। शांति सद्भावना पदयात्रा के माध्यम से बाजार चट्टी चौराहे वे गांव गांव में सभा नुक्कड़,नाटक के माध्यम से समाज में शांति प्रेम आपसी भाईचारा का संदेश दिया जा रहा है।किसी भी समाज के निर्माण के लिए शांति और सद्भाव का होना बहुत ही जरूरी है। शांति और सद्भाव के माध्यम से ही समाज का निर्माण होता है, समाज में शांति और सद्भाव को आधार माना जाता है। अगर देश में शांति होगी, तो देश में विकास होगा अन्यथा विकास का होना भी असंभव है। देश की सरकार द्वारा देश में शांति और सद्भाव को सुनिश्चित करने के लिए पूरा प्रयास किया जा रहा है, लेकिन समाज में जिस प्रकार से धर्म और जाति को लेकर दूरी खत्म नही हो रही है यह एक चिंता का विषय है, और इसी वजह से देश में शांति व सद्भाव भंग होते हैं। देश में शांति और सद्भाव को अक्सर धर्म के नाम पर बांधा जाता है।और सिर्फ अपने धर्म को श्रेष्ठ मानने के कारण और दूसरे धर्म को अपने से छोटा समझने के कारण लोग आपस मे लड़ते झगड़ते है जबकि सभी धर्मों में प्यार,अहिंसा,मिलजुल कर रहने और एक दूसरे के सुख दुख में भागीदारी करने व मानवता का संदेश दिया गया हैं। और वही मानवता का संदेश हम इस शांति सद्भाव पदयात्रा के माध्यम से आप लोगो को देना चाहते है,सभी मिलजुल कर रहे और धर्म,जाति, लिंग के आधार पर भेदभाव न हो और यही बात हमारे संविधान में भी कहा गया है और संविधान में भी समता,समानता और स्वतंत्रता की बात कही गई है।पदयात्रा में शामिल सभी लोगों का स्वागत जिला पंचायत सदस्य राजेश सिंह , चोलापुर ग्राम प्रधान मीरा देवी , ताड़ी ग्राम प्रधान धर्मेन्द्र कुमार , मनरेगा मेठ सावित्री देवी द्वारा किया गया । कार्यक्रम में साबुलाल बिन्दु जी , नन्दलाल मास्टर , रंजू सिंह , पूनम दीक्षित , सुरेन्द्र सिंह , सुजीत श्रीवास्तव , अनिल , मुकेश , सुरेश , सुबेदार , इत्यादि लोगों की भागीदारी रही ।

Advertisement
- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article