0.8 C
Munich
Saturday, December 3, 2022

खरीफ विपणन वर्ष 2022-23 में मूल्य समर्थन योजनान्तर्गत धान खरीद की समीक्षा बैठक आयोजित की गई

Must read

Advertisement
Advertisement

आजमगढ़/संसद वाणी

आयुक्त आजमगढ़ मण्डल, श्री मनीष चौहान की अध्यक्षता में आयुक्त सभागार में खरीफ विपणन वर्ष 2022-23 में मूल्य समर्थन योजनान्तर्गत धान खरीद की समीक्षा बैठक आयोजित की गई। मंडलायुक्त ने कहा कि मंडल के सभी केंद्रों पर तत्काल धान क्रय करना शुरू कर दिया जाए। उन्होंने कहा कि सभी जिलाधिकारी अपनी देखरेख में सभी क्रय केंद्रो को तत्काल सक्रिय कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि सभी धान क्रय केंद्रों का तत्काल सत्यापन सुनिश्चित कर दिया जाए। मंडलायुक्त ने कहा कि सभी तहसीलों में काउंटर बना दिया जाए, जिसपर किसान जाकर अपना पंजीकरण करा सकें।
मण्डलायुक्त ने जिलाधिकारियों से कहा कि अपर जिलाधिकारी वि0/रा0 को निर्देशित करें कि तहसीलवार पंजीकरण कराना सुनिश्चित करें। मंडलायुक्त ने कहा कि क्रय केंद्रों पर आवश्यकतानुसार बोरे की कम से कम पांच-पांच गांठे उपलब्ध करा दिया जाये। उन्होंने कहा कि किसानों को सूचित कर दिया जाए कि धान क्रय प्रारंभ हो गया है। श्री चौहान ने कहा कि क्रय सेंटर पर भीड़ न लगे, इसके लिए टोकन की व्यवस्था सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि पहले आओ पहले पाओ की नीति अपनाई जाए। उन्होंने कहा कि जो किसान पहले पूरी पारदर्शिता और ईमानदारी से आये,उसी का धान क्रय करना सुनिश्चित करें। मंडलायुक्त ने कहा कि मंडल की सभी मिलों का तत्काल संबद्धीकरण करा लिया जाए। उन्होंने कहा कि सभी एसडीएम मिलों का सत्यापन कर संबद्धीकरण कराना सुनिश्चित करें। मंडलायुक्त ने कहा की जिन मिलो का बकाया है,उन्हें नोटिस जारी कर वसूली सुनिश्चित कराई जाये। उन्होंने कहा कि सभी एसडीएम और डिप्टी आरएमओ आपस में बैठक कर मिलों से वसूली सुनिश्चित कराएं। उन्होंने कहा कि वसूली न होने पर नोटिस जारी कर उनके मिल की कुर्की की कार्यवाही की जाए। मंडलायुक्त ने कहा कि सभी क्रय केंद्रों से लाइव लोकेशन सुनिश्चित कराई जाए। उन्होंने कहा कि प्रातः 9ः00 से 11ः00 के बीच में सभी क्रय केंद्र प्रभारी अपनी उपस्थिति सुनिश्चित कराएं। मंडलायुक्त ने कहा कि जिस किसान का धान खरीदा जा रहा है, उसकी भी उपस्थिति सेंटर पर अवश्य हो। उन्होंने कहा कि सभी क्रय केंद्रों पर नोडल अधिकारी नियुक्त किया जाए, जो प्रत्येक दिन रिपोर्ट प्रेषित करें। मंडलायुक्त ने कहा कि क्रय केंद्र पर किसी भी प्रकार की अव्यवस्था नहीं होनी चाहिए। उन्होने कहा कि समय से राइस मिलों को धान प्रेषित करना सुनिश्चित करें। इसके साथ ही मंडलायुक्त ने उद्यान विभाग और मत्स्य विभाग की समीक्षा की। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिया कि ऐसे उत्पाद को बढ़ावा दिया जाए, जिसको एक्सपोर्ट करके किसानों की आय में वृद्धि कर सकें। उन्होंने कहा कि किसानों को प्रोत्साहित करने के लिए जिलाधिकारी स्वयं एडीएम से बात कर लोन दिलाना सुनिश्चित करें।
मण्डलायुक्त ने तीनों जिलाधिकारियों को निर्देश दिया कि आपके जनपदों में उपलब्ध डीएपी/यूरिया का वितरण पारदर्शितापूर्ण तरीके से कराना सुनिश्चित करें। उन्होने कहा कि वितरण इस प्रकार करें कि डीएपी/यूरिया हर किसानों को मिल सके। बैठक में जिलाधिकारी आजमगढ़ श्री विशाल भारद्वाज, जिलाधिकारी मऊ श्री अरूण कुमार, जिलाधिकारी बलिया सौम्या अग्रवाल, मुख्य विकास अधिकारी बलिया श्री प्रवीण वर्मा, मुख्य विकास अधिकारी मऊ श्री प्रशान्त नागर, जिला विकास अधिकारी आजमगढ़ श्री संजय कुमार सिंह, मण्डल प्रबन्धक भारतीय खाद्य निगम आजमगढ़ मण्डल आजमगढ़, क्षेत्रीय प्रबन्धक पीसीएफ आजमगढ़ सहित अन्य मण्डल स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

Advertisement
- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article