आज़ाद मैदान से आचार्य लोकेशजी आचार्य नयपद्मसागरजी, आचार्य प्रमाण सागरजी ने जैन तीर्थों की पवित्रता व अक्षुण्णता के लिए सरकार से अपील की

0
30

  • जैनाचार्यों के साथ हज़ारों की संख्या में श्रद्धालु तीर्थों की पवित्रता व सुरक्षा के लिए आज़ाद मैदान में जुटे।

  • हजारों भक्तों ने शिखरजी, गिरनारजी व शत्रुन्जय की पवित्रता व सुरक्षा के लिए आन्दोलन जारी रखने की शपथ ली

मुम्बई। मुम्बई के आज़ाद मैदान में जैनाचार्यों के साथ लाखों की संख्या में श्रद्धालु अपने तीर्थों की पवित्रता व सुरक्षा के लिए जुटे। अहिंसक व शांतिप्रिय जैन समाज के लाखों भक्तों ने शिखरजी, गिरनारजी व शत्रुन्जय की पवित्रता व सुरक्षा के लिए आन्दोलन जारी रखने की शपथ ली।

इससे पूर्व मुम्बई कीं सड़कों पर रैली में भाइयों के साथ बड़ी संख्या में महिलाएँ व बच्चे भी शामिल हुए।लाखों की भीड़ की व्यवस्थाओं को युवाओं ने सँभाल रखा था । जैन एकता का ऐसा नजारा पहली बार देखने को मिला दिगम्बर श्वेतांबर सब एक साथ थे दिल्ली से विश्व विख्यात शांतिदूत आचार्य लोकेशजी को विशेष रूप से बुलाया गया था वे संयुक्त राष्ट्रसंघ सहित वैश्विक मंचों से जैनधर्म का संदेश दुनिया भर में पहुँचाते हैं उनकी विभिन्न सरकारों में भी अच्छी पैठ है।

आज़ाद मैदान से आचार्य लोकेशजी ने जैन तीर्थों की पवित्रता व अक्षुण्णता के लिए सरकार को अल्टीमेटम देते हुए कहा तीर्थों की पवित्रता व अक्षुण्णता को खंडित करने का कोई भी प्रयास बर्दाश्त नहीं किया जाएंगा उन्होंने कहा कि सरकार के लिए भी भलाई इसी बात में हैं कि अहिंसक व शांतिप्रिय जैन समाज जो राजस्व देने व लोक कल्याणकारी कार्यों में भी आगे रहता है उसकी जायज़ माँगो को शीघ्र स्वीकार कर लें।

आचार्य लोकेशने सम्मेद शिखरजी, गिरनारजी व शत्रुन्जय जी को पवित्र तीर्थ क्षेत्र घोषित करते हुए उसके संरक्षण की समुचित व्यवस्था करने की सरकार से पुरज़ोर अपील की।

आचार्य नयपद्मसागरजी ने कहा सरकार जल्दी से जल्दी पालीतणा, सम्मेदशिखर जी को पवित्र तीर्थ क्षेत्र घोषित करें और 10 किलोमीटर के क्षेत्र में मांस शराब की बिक्री पर प्रतिबंध लगाये।

आचार्य प्रमाण सागरजी व माताजी ने कहा कि सम्मेद शिखरजी शास्वत तीर्थ है इनकी पवित्रता भंग हुई तो हम स्वयं अन्न जल त्याग देंगे।

इस अवसर पर महाराष्ट्र विधानसभा के अध्यक्ष राहुल नार्वेकर ने कहा कि महाराष्ट्र सरकार जैन समाज की भावनाएं केन्द्र सरकार व सम्बंधित राज्य सरकार तक पहुँचाएँगी।

इस मुद्दे पर आमरण अनशन पर बैठे संजय जैन ने कहा कि सरकार के निवेदन पर हमने 15 दिन का समय दिया है हमारा आन्दोलन माँगें पूरी होने तक जारी रहेगा। सकल जैन समाज संगठन की ओर से आयोजित कार्यक्रम में भारत जैन महामण्डल के अध्यक्ष राकेश मेहता जीतो के अध्यक्ष अभय श्रीश्रीमाल जैन दिगम्बर समाज के अध्यक्ष ने अपने विचार रखें। कवियित्री अनामिका जैन अम्बर, गायक विक्की मेहता ने कविता गीत प्रस्तुत किए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here