2 C
Munich
Thursday, December 1, 2022

मंडलायुक्त सभागार में सर्वोच्च विकास प्राथमिकता कार्यक्रमों की मंडलीय समीक्षा बैठक आयोजित की गई।

Must read

Advertisement
Advertisement

आजमगढ़/संसद वाणी

मंडल आजमगढ़ श्री मनीष चौहान की अध्यक्षता में आज मंडलायुक्त सभागार में सर्वोच्च विकास प्राथमिकता कार्यक्रमों की मंडलीय समीक्षा बैठक आयोजित की गई। मंडलायुक्त ने लघु सिंचाई विभाग को निर्देश दिया कि मध्यम एवं गहरी बोरिंग को तत्काल कराना सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि रजिस्टर्ड किसानों की शीर्ष प्राथमिकता से बोरिंग कराई जाए। उन्होंने सिंचाई विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिया कि नहरों की सिल्ट सफाई के कार्य में तेजी लाएं तथा निर्धारित किए गए लक्ष्य के सापेक्ष शत-प्रतिशत नहरों की सिल्ट सफाई कराना सुनिश्चित करें, ताकि किसानों को बुवाई के सीजन में आसानी से सिंचाई हेतु पानी की आपूर्ति सुनिश्चित कराई जा सके। श्री चौहान ने कहा कि प्रत्येक दशा में नहरों के टेल तक पानी की आपूर्ति सुनिश्चित की जाए।मंडलायुक्त ने मुख्य अभियंता विद्युत आजमगढ़ मंडल को निर्देश दिया कि विद्युत बकाया की शत-प्रतिशत वसूली सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि निवेश मित्र पोर्टल पर प्राप्त आवेदनों का निस्तारण गुणवत्तायुक्त एवं निश्चित समय में किया जाए।
मंडलायुक्त ने सड़को की गड्ढा मुक्ति की समीक्षा करते हुए कहा कि मंडल की सभी सड़कों को गड्ढा मुक्त किया जाना सुनिश्चित करें। उन्होंने तीनों जिलों के जिलाधिकारियों को निर्देश दिया कि समय-समय पर मौके पर स्वयं जाकर चेक करना भी सुनिश्चित करें। उन्होंने मुख्य अभियंता पीडब्ल्यूडी को निर्देश दिया कि जनता का जिस सड़क पर अधिक आना जाना हो, तथा बाजारों, तहसीलों एवं ब्लॉकों के संपर्क मार्गों को शीर्ष प्राथमिकता से गड्ढा मुक्त कराएं। मंडलायुक्त ने जेडी एग्रीकल्चर को निर्देश दिया कि लगाए जा चुके सोलर पंपों का सत्यापन कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि जिन किसानों ने पैसा जमा कर दिया है, उन्हें पहले सोलर पंप उपलब्ध कराएं। उन्होंने कहा कि सोलर पंप के लिए आवेदन करने वाले किसानों का भी पंजीकरण कराना सुनिश्चित करें।उन्होंने कहा कि अधिक से अधिक किसानों को सोलर पंप का लाभ देना सुनिश्चित करें। मंडलायुक्त ने कहा कि प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के लाभार्थी किसानों का डाटा फीड कराएं तथा प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में किसानों के दावे आमंत्रित किए जाएं। पशुपालन विभाग की मंडलीय समीक्षा करते हुए श्री चौहान ने कहा कि निराश्रित गोवंशों को संरक्षित एवं सुरक्षित रखने के लिए निर्माणाधीन गौ आश्रय स्थलों को तत्काल पूर्ण करा लिया जाए। उन्होंने कहा कि गुणवत्ता से कोई समझौता नहीं किया जाएगा। उन्होंने कहा कि निर्धारित समय में निर्माण पूर्ण कर निराश्रित गोवंश को रखना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि सभी गौ आश्रय स्थलों का निर्माण 30 नवंबर तक पूर्ण कर लिया जाये। मंडलायुक्त ने एडी स्वास्थ्य को निर्देश दिया कि चिकित्सकों की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित कराएं। उन्होंने कहा कि आयुष्मान भारत योजना के अंतर्गत गोल्डन कार्ड बनाने की रणनीति तैयार करें। उन्होंने कहा कि रोजगार सहायक, पंचायत सहायक, खंड विकास अधिकारी एवं कोटेदार का भी गोल्डन कार्ड बनाने में मदद लिया जाए। उन्होंने कहा कि सभी जिलाधिकारी, मुख्य विकास अधिकारी की देखरेख में सीएमओ, एसडीएम, सीएचसी/पीएचसी प्रभारी की जिम्मेदारी सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि लापरवाही करने वाले को नोटिस जारी करें तथा आवश्यक कार्रवाई भी सुनिश्चित की जाए। उन्होंने कहा कि जनहित से जुड़ी यह सरकार की शीर्ष प्राथमिकता की योजना है, इसमें लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी। उन्होंने कहा कि सभी चिकित्सालय में पर्याप्त दवाओं की उपलब्धता एवं 102/108 एंबुलेंस की उपलब्धता सुनिश्चित कराई जाए। उन्होंने कहा कि टीकाकरण में तेजी लाएं। उन्होंने कहा कि सभी जिलाधिकारी स्वास्थ्य विभाग की नियमित समीक्षा करें एवं जो सीएमओ काम न करें, उनके विरुद्ध रिपोर्ट शासन को प्रेषित करें। उन्होंने कहा कि सभी सीएचसी/पीएचसी की लगातार मॉनिटरिंग सुनिश्चित कराई जाए। श्री चौहान ने जिलाधिकारियों को निर्देश दिया कि स्वास्थ्य एवं शिक्षा विभाग पर विशेष ध्यान दें। उन्होंने कहा कि कायाकल्प योजना के कार्यों को तत्काल कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि स्कूलों में पंजीकृत बच्चों के सापेक्ष उपस्थिति दर्ज कराना सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने कहा कि कार्य न करने वाले अधिकारियों को चार्जशीट देकर कार्यवाही सुनिश्चित कराई जाए। उन्होंने कहा कि पंचायत भवनों, स्कूलों की बाउंड्रीवाल एवं सामुदायिक शौचालयों के निर्माण को तत्काल पूर्ण कराया जाए। उन्होंने कहा कि जिस ग्राम पंचायतों में जमीन नहीं है, उसके आसपास के ग्राम पंचायतों में जमीन लेकर अथवा किसानों से जमीन लेकर पंचायत भवन का निर्माण कराया जाए। उन्होंने कहा कि पंचायत भवन चलाने के लिए किराए का भी मकान लेने के लिए शासन को पत्र प्रेषित करें।मंडलायुक्त ने कहा कि स्वयं सहायता समूहों को मुर्गी पालन, बकरी पालन, मत्स्य पालन एवं किराना की दुकानों के लिए बैंकों से लोन दिलाना सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि कृषि यंत्रों पर लोन दिलाकर कृषकों/एफपीओ को बैंकों से लोन दिलाया जाए। उन्होंने कहा कि मनरेगा योजना में अधिक से अधिक रोजगार दिवस का सृजन किया जाए। मंडलायुक्त ने कहा कि अभियान चलाकर खाद्य एवं रसद की दुकानों का आवंटन कराएं तथा राशन कार्ड धारकों के आधार का भी प्रमाणीकरण कराना सुनिश्चित किया जाए। मंडलायुक्त ने इसके साथ ही पेंशन योजना, गन्ना मूल्य भुगतान, कौशल विकास मिशन, ओडीओपी, खाद्य सुरक्षा, आईसीडीएस, वन विभाग, उद्यान विभाग, जल निगम, महिला कल्याण विभाग तथा श्रम विभाग आदि विभागों की समीक्षा कर आवश्यक दिशा निर्देश दिए।
बैठक में जिलाधिकारी आजमगढ़ श्री विशाल भारद्वाज, जिलाधिकारी मऊ श्री अरूण कुमार, जिलाधिकारी बलिया सौम्या अग्रवाल, अपर आयुक्त मण्डल आजमगढ़, मुख्य विकास अधिकारी बलिया श्री प्रवीण वर्मा, मुख्य विकास अधिकारी मऊ श्री प्रशान्त नागर सहित अन्य मण्डल स्तरीय अधिकारी उपस्थित रहे।

Advertisement
- Advertisement -

More articles

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest article