August 12, 2022

भ्रष्टाचार का दलदल एवं कीचड़ की राजनीति

आलेख: ललित गर्ग भ्रष्टाचार के खेल ने दुनिया के सारे लोकतंत्रों को खोखला कर दिया है। भारतीय लोकतंत्र दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है, इसलिए...

बहुसंख्य समाज अपमान के घूंट कब तक पीता रहेगा?

आलेख: ललित गर्ग हमारे देश के कुछ समूहों, वर्गों, राजनीतिक-गैर राजनीतिक संगठनों एवं सम्प्रदायों में राष्ट्रवाद का अभाव ही अनेक समस्याओं की जड़ है। इसी...

नारी के अखंड सौभाग्य का पर्व है गणगौर

राजस्थान की उत्सव संस्कृति जहां समृद्ध है वहीं उसमें जीवन के रंग, कला, शौर्य, पराक्रम एवं बलिदान की भावना देखने को मिलती है। यहां का...

चरागे ए सुबह हूं बेशक‌ बुझा हुआ हूं मैं न भूल तेरे लिये रातभर जला हूं मैं हूं इश्क माना कि मुद्दत से मद्दआ हूं मैं न हल हो मेरा नहीं ऐसा मसअला हूं मैं

कर चले हम फ़िदा जान वतन साथियों अब तुम्हारे हवाले वतन साथियों का तराना गाते आजादी के दीवाने हंसते हंसते फांसी के फंदे पर झूल...