August 9, 2022

जनपद में खाद्य तेल में मिलावट की रोकथाम के लिए खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन अभियान चला रहा है।

Advertisement
Advertisement

आजमगढ़/संसद वाणी

भारतीय खाद्य संरक्षा एवं मानक प्राधिकरण नई दिल्ली के निर्देशानुसार एवं जिलाधिकारी महोदय के आदेश पर जनपद में खाद्य तेल में मिलावट की रोकथाम, ट्रांस फैटी एसिड की मात्रा का पता लगाने, लेबलिंग प्रावधान और मल्टी सोर्स एडिबल आयल के लिए अनिवार्य एगमार्क लाइसेंस और जनपद में खुले तेलों की बिक्री पर प्रतिबन्ध लगाने के उद्देश्य से खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग आजमगढ़ दिनांक 01 अगस्त 2022 से 14 अगस्त 2022 तक सर्विलांस अभियान चला रहा है, जिसके तहत सभी संग्रहित नमूनों (उत्पादित/पैक्ड मल्टी सोर्स एडिबिल आयल (स्थानीय ब्राण्ड) तथा वेजिटेबिल आयल (स्थानीय ब्राण्ड) एवं ब्राण्डेड मल्टी सोर्स एडिबिल आयल व वेजिटेबिल आयल में समस्त मानकों पर ट्रांस फैटी एसिड की मात्रा की जांच की जायेगी। तत्क्रम में आज बेलइसा से रिफाइण्ड सोयाबीन आयल (इमामी बेस्ट च्वाइस), फरिहा से मल्टीसोर्स एडिबल वेजीटेबल आयल (क्लासिक ब्राण्ड) एवं आरटीओ आफिस के पास से रिफाइण्ड मस्टर्ड आयल (क्लासिक ब्राण्ड) का नमूना संग्रहित किया गया। टीम में खाद्य सुरक्षा अधिकारी श्री राकेश कुमार शुक्ला, श्री अंकित कुमार सिंह, श्री अमरनाथ एवं खाद्य सहायक श्री अनिल कुमार शामिल रहें।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Previous post बुधवार से शुरू हुआ विटामिन ए संपूर्ण अभियान।
Next post जहरीली शराब कांड में MLA रमाकांत यादव के रिश्तेदार रंगेश यादव की अवैध संपत्ति को प्रशासन ने किया कुर्क।