August 9, 2022

जल मार्ग से श्री काशी विश्वनाथ धाम दर्शन के लिए आ सकते हैं वीआईपी

Advertisement
Advertisement

वाराणसी/संसद वाणी

  • सावन के पहले सोमवार के बीतने के बाद व्यवस्थाओं की अधिकारियों ने की समीक्षा।
  • सोमवार की बेहतर व्यवस्था को बताया संतोषजनक और सुधार का दिया निर्देश।

  • सावन का पहला सोमवार बीत जाने के बाद मंगलवार को मंडलायुक्त और पुलिस कमिश्नर ने सभी अधिकारियों के साथ श्री काशी विश्वनाथ धाम में एक समीक्षा बैठक की।
    बैठक के दौरान सभी अधिकारियों ने पहले सोमवार को श्रद्धालुओं के लिए की जाने वाले व्यवस्था के दौरान आने वाली कठिनाइयों होने और बेहतर व्यवस्था करने को लेकर सुझाव भी प्राप्त किया।
    मंडलायुक्त श्री दीपक अग्रवाल ने कहा कि आम दर्शनार्थियों की व्यवस्था में किसी प्रकार की कोई कमी नहीं की जा सकती है। इसलिए अगर बीआईपी सोमवार के दिन श्री काशी विश्वनाथ धाम में दर्शन पूजन और अभिषेक करने के लिए आना चाह रहे हो तो नमो घाट या अस्सी घाट पर अपने वाहन पार्क कर जल मार्ग से श्री काशी विश्वनाथ धाम आ सकते हैं। ऐसे में ना ही आम श्रद्धालुओं को असुविधा होगी ना ही किसी प्रकार के आवागमन की परेशानी झेलनी पड़ेगी। उन्होंने सभी विभागों के अधिकारियों को यह निर्देश देते हुए सावन माह में आने वाले श्रद्धालुओं को अवगत कराने की बात कही। पुलिस कमिश्नर श्री ए सतीश गणेश ने बताया कि सावन की व्यवस्था काफी संतोषजनक रही। इसके बाद भी श्रद्धालुओं की सुविधा को और बढ़ाने की आवश्यकता है। पहला सोमवार होने के चलते अभी बहुत कम संख्या में श्रद्धालु श्री काशी विश्वनाथ धाम पहुंचे हैं। पूर्वांचल के बहुत सारे जिले हैं जहां के अभी श्रद्धालु काशी दर्शन के लिए नहीं पहुंच पाए हैं। ऐसे में आने वाले तीन सोमवार को श्रद्धालुओं की भीड़ और बढ़ेगी। उन्होंने कहा कि श्रद्धालुओं की बेहतर व्यवस्था के लिए और भी अच्छे इंतजाम किए जाएं। जिलाधिकारी श्री कौशल राज शर्मा ने मंदिर परिसर में साफ-सफाई और मैटिंग की व्यवस्था को और बेहतर बनाने का निर्देश दिया। मंदिर के मुख्य कार्यपालक अधिकारी श्री सुनील कुमार वर्मा ने बताया कि करीब साढ़े पांच लाख श्रद्धालुओं ने श्री काशी विश्वनाथ धाम में सोमवार के दिन दर्शन किए हैं। इस दौरान साफ सफाई और अन्य व्यवस्थाएं सही रही। उन्होंने गर्मी और बारिश को देखते हुए परिसर में और भी टेंट लगवाने की बात अधिकारियों को बताई। इस मौके पर नगर आयुक्त सहित बड़ी संख्या में अधिकारी उपस्थित रहे।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Previous post सहस माइक्रो फाइनेंस के तीसरे शाखा का हुआ उद‌्घाटन।
Next post एक पाली में विद्यालय संचालित होने से जताया रोष