August 12, 2022

16 को डीआईओएस कार्यालय पर शिक्षक संघ करेगा प्रदर्शन धरने-प्रदर्शन को सफल बनाने के लिए किया शिक्षकों को लामबंद।

Advertisement
Advertisement

गाजीपुर/संसद वाणी

उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षक संघ के तत्वावधान में शनिवार को विकास भवन स्थित डीआईओएस कार्यालय पर प्रदर्शन करने की रणनीति तय की।जनपदीय पदाधिकारियों कार्यकारिणी सदस्य तथा सक्रिय कार्यकर्ताओं ने गुरुवार को दर्जनों विघालयों का दौरा कर शिक्षकों को लामबंद किया गया। प्रदेश कार्यकारिणी के वरिष्ठ सदस्य चौधरी दिनेश चन्द्र राय ने कहा कि शिक्षकों की समस्याओं का निस्तारण कराना संगठन के पदाधिकारियों कार्यकर्ताओं का दायित्व है। श्रीराय ने कहा कि सरकार सहायता प्राप्त माध्यमिक विद्यालयों के शिक्षकों के प्रति उदासीन है और पूर्व प्रेषित ज्ञापन की मांगों पर कोई कार्यवाही नही कर रही है, जबकि शिक्षकों ने कोरोना आदि की विषम परिस्थितियों में सरकार को पूरा सहयोग किया। सरकार के उदासीन रवैये को देखते हुए प्रदेशीय नेतृत्व द्वारा निर्णय लिया गया है कि 16 जुलाई को संघर्ष के पहले चरण में प्रदेश के सभी जिलाविद्यालय निरीक्षक कार्यालयों में धरना देकर मुख्यमंत्री को ज्ञापन प्रेषित किए जाए और कार्यवाही न होने पर अगले चरणों के संघर्ष की घोषणा की जाएगी। 17 सूत्रीय ज्ञापन की मागों में पुरानी पेन्शन की बहाली,वित्त विहीन विद्यालयों में कार्यरत शिक्षकों को समान कार्य के लिए समान वेतन एवं सेवा शर्ते, निःशुल्क चिकित्सा सुविधा, वंचित तदर्थ शिक्षकों का विनियमितीकरण आदि प्रमुख हैं। श्री राय ने शिक्षकों से अपनी जायज मांगों के लिए संघर्ष करने का आह्वान किया। उन्होंने संगठन के गौरवशाली इतिहास की चर्चा करते हुए संगठन को मजबूत करने की अपील की। शिक्षकों को बताया कि शिक्षकों ने संघर्ष और संगठन की ताकत के माध्यम से वेतन वितरण अधिनियम, चयन बोर्ड अधिनियम और सेवा सुरक्षा जैसी महत्वपूर्ण उपलब्धियां हासिल की हैं। उन उपलब्धियों को अक्षुण्ण रखना हम सबकी जिम्मेदारी है। राय ने बताया कि अभी तक 3 प्रतिशत महंगाई भत्ते की किस्त का भुगतान नहीं किया गया है। कक्ष निरीक्षक और बोर्ड परीक्षा के पारिश्रमिक का भुगतान भी लंबित है। इस पर गुस्सा जताया और संघर्ष का आह्वान किया। कहा कि बिना संघर्ष के कुछ भी हासिल नहीं होने वाला है. अत: 16 जुलाई को पूरी शक्ति के साथ जिला विद्यालय निरीक्षक के कार्यालय में एकत्रित होकर जय-जयकार करें। राज्य नेतृत्व के आह्वान पर गुरुवार को जिलाध्यक्ष शिवकुमार सिंह के नेतृत्व में शिक्षकों की लम्बित मांगों के समर्थन में दर्जनों स्कूलों का दौरा किया। 16 जुलाई को होने वाले धरने में बड़ी संख्या में शिक्षकों से उपस्थित रहने की अपील की। जिलाध्यक्ष ने बताया कि पुरानी पेंशन की बहाली, नि:शुल्क चिकित्सा सुविधा, सभी प्रकार के अवशेषों का भुगतान, स्थानांतरण प्रक्रिया को सरल एवं सुगम बनाना, वित्तविहीन विद्यालयों के शिक्षकों के लिए सेवा नियम बनाना और समान कार्य के लिए समान वेतन आदि. धरना मांगों को लेकर 16 जुलाई को सुबह 12 बजे जिला विद्यालय निरीक्षक कार्यालय में आयोजित की जाएगी। नारायण उपाध्याय, डॉ रियाज अहमद, अमित कुमार राय, रत्नेश कुमार राय, कुँअर अविनाश गौतम, सूर्य प्रकाश राय, मनोज कुमार सिंह, उमेश चन्द्र राय, सत्येन्द्र कुमार पाण्डेय, रविन्द्र नाथ तिवारी आदि शामिल रहे।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Previous post पुलिस अधीक्षक ने संभाली जिला की कमान चेकिंग के दौरान मुठभेड़,अपराधी हुए घायल।
Next post आईएचसीआई कार्यक्रम केन्द्र से आई उच्चस्तरीय समिति ने डीडीयू समेत अन्य चिकित्सालयों का किया दौरा।