August 9, 2022

पूर्व प्रवक्ता शशिप्रताप सिंह ने 17 साल का रिश्ता सुभासपा से तोड़ा।

Advertisement
Advertisement

मीडिया से बात चित करते सुभासपा पूर्व प्रवक्ता शशिप्रताप सिंह ने कहा कि जिस मिसन मुद्दे को लेकर 2004 में सुभासपा से जुड़ा था उस मिसन मुद्दे से भटक जाने के कारण यह कदम उठाना पड़ा। ओमप्रकाश राजभर जी का यह कहते रहना आजीवन मैं और परिवार के लोग चुनाव नही लड़ेंगे। बेटा-बेटी पत्नी रिस्तेदार और मोटा माल वाले को चुनाव लड़ाते रहे।
बेतुका बयान श्री राम को नही मानते शिव को नही मानते, कार्यकर्ताओ को धोखा देना पैसे के लिये सुहेलदेव जी का अपमान करना परिवार वाद को आगे बढ़ना, भोली भाली राजभर समाज को दारू बाज कहना, कार्यकर्ताओ को लोडर कहना, समाजवादी पार्टी को नसीहत देना चुनाव के पहले गठवन्धन की पार्टीयो को धोखा देना। अविश्वास को पैदा करता है, इसलिए 17 साल पुराना सम्बन्ध तोड़ना पड़ा। शशिप्रताप सिंह ने कहा कि आज मैं दिल्ली जा रहा हूँ, आकर आगे की रणनीति का खुलासा करूँगा।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Previous post चोलापुर में आपसी विवाद में खूनी संघर्ष एक व्यक्ति गंभीर रूप से घायल।
Next post पीएम करेंगे अधूरे सड़क का लोकार्पण