August 9, 2022

खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन ने शहर में फलों और जूस कॉर्नर की दुकान पर सघन चेकिंग अभियान चलाया।

Advertisement
Advertisement

वाराणसी/संसद वाणी

खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन ने सोमवार को शहर के विभ्न्न क्षेत्रों में फलों की दुकानों और जूस कॉर्नर पर सघन चेकिंग अभियान चलाया। टीम ने कुल 45 फल विक्रेताओं, जूस की दुकानों और फास्ट फूड की दुकानों का निरीक्षण किया, जिसमें नउवा पोखरा, गोलगड्डा और लक्सा स्थित दुकानों से कुल 230 किलो सड़े-गले पपीते को मौके पर ही नष्ट कराया गया। खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन के निर्देशन में गठित खाद्य सुरक्षा अधिकारियों के दल ने नउवा पोखरा, कज्जाकपुरा रोड, चौकाघाट, गोलगड्डा, लक्सा रोड, कामच्छा, अस्सी, चेतगंज पांडेयपुर चौराहा स्थित कुल 45 फल विक्रेताओं, जूस की दुकानों, फास्ट फूड से सम्बन्धित खाद्य प्रतिष्ठानों के निरीक्षण किया। नउवा पोखरा स्थित फल मंडी में विक्रय के लिए संग्रहित लगभग 200 किग्रा पपीता व गोलगड्डा स्थित प्रतिष्ठान से 20 किग्रा पपीता लक्सा व कामच्छा पर लगभग 15 किग्रा पपीता, आम व अनार निरीक्षण के दौरान सड़ा गला और खाद्य योग्य नहीं पाया गया, जिसे मौके पर नष्ट कराया गया। खाद्य सुरक्षा अधिकारियों के एक दल ने 10 प्रतिष्ठानों में खाद्य पदार्थों के निर्माण में प्रयोग होने वाले तेल की जाँच की, जांच के दौरान खाद्य तेलों की गुणवत्ता मानक के अनुरूप पायी गयी।

यह छापेमारी खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन, वाराणसी संजय प्रताप सिंह के नेतृत्व में हुई। छापामार कार्रवाई में मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी संजीव सिंह, खाद्य सुरक्षा अधिकारी अवनीश कुमार सिंह, गोबिन्द यादव, रमेश सिंह, योगेश कुमार राय, सरोज कुमार, सुरेन्द्र प्रताप नारायण सिंह, सीताराम सिंह कुशवाहा, राजू पाल, सहायक आयुक्त (खाद्य) मौजूद रहे।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Previous post बुजुर्ग व्यक्ति की गोली मारकर हत्या।
Next post प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के काशी दौरे के मद्देनजर नगर निगम ने अतिक्रमण के खिलाफ अभियान चलाया।