July 6, 2022

जिला प्रशासन एवं ब्रह्मराष्ट्र एकम के संयुक्त तत्वावधान में जानकी घाट पे 25 सदस्यों के साथ मनाया गया 8 वां योग दिवस।

Advertisement
Advertisement

वाराणसी/संसद वाणी

हर साल 21 जून को अंतरराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जाता है। दुनिया के तमाम देश योग के महत्व को समझते हुए योग दिवस को मनाते हैं। योग का अभ्यास शरीर और मस्तिष्क की सेहत के लिए फायदेमंद है। योग शरीर को रोगमुक्त रखता है और मन को शांति भी देता है। भारत में ऋषि मुनियों के दौर से योग होता आ रहा है। योग भारतीय संस्कृति से जुड़ा है, जो अब विदेशों में भी फैल गया है। भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 27 सितंबर 2014 को संयुक्त महासभा में दुनियाभर में योग दिवस मनाने का आह्वान किया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रस्ताव को संयुक्त राष्ट्र महासभा ने स्वीकार कर लिया। महज तीन महीने के अंदर अंतरराष्ट्रीय योग दिवस के आयोजन का ऐलान कर दिया गया। तत्पश्चात 21 जून 2015 में पहली बार विश्व योग दिवस दुनिया भर में मनाया गया। जिसका नेतृत्व भारत ने किया था। 35 हज़ार से अधिक लोगो ने दिल्ली के राजपथ पर योगासन किया था। आज विश्व भर में लोग स्वस्थ रहने के लिए योगाभ्यास कर रहे हैं। योग का महत्व कोरोना काल में और अधिक बढ़ गया था। जब कोविड लॉकडाउन के दौरान लोग घरों से बाहर नहीं निकल सकते थे। जिम बंद हो गए थे तब लोगों ने मन को शांत रखने और शरीर को स्वस्थ बनाए रखने के लिए घर पर ही योगाभ्यास किया।
आज 8 वें अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के उपलक्ष्य में जिला प्रशासन और ब्रह्मराष्ट्र एकम के संयुक्त तत्वावधान में 25 सदस्यों के साथ जानकी घाट पे योगासन किया गया। जिसमें जिला प्रशासन की तरफ से नियुक्त किये गए निखिल गुप्ता , सदधाम हुसैन , योगा इंस्ट्रक्टर नेहा चौधरी , ज्योति मिश्रा जी ने ब्रह्मराष्ट्र एकम के समस्त पदाधिकारियों को योगासन कराया। योगासन की शुरुआत मंत्रोच्चार के साथ हुई।
ब्रह्मराष्ट्र एकम के संस्थापक सचिन मिश्र जी के नेतृत्व में नारी शक्ति अध्यक्ष प्रिया मिश्रा , डॉ सुधीर मिश्र , धीरेंद्र पांडेय , सुजीत अधिकारी , रजनी जायसवाल , संतोष कश्यप ,नृपेंद्र मिश्र ,कुशाग्र मिश्र , प्रभात , सूर्यप्रकाश , कुशल, आकाश बिंद , भानु श्रीवास्तव , राकेश गुप्ता आदि लोग उपस्थित रहें।

जिला प्रशासन,ब्रह्मराष्ट्र एकम के संयुक्त तत्वावधान में 25 सदस्यों के साथ जानकी घाट पे योगासन किया गया।
Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Previous post पार्थिव शरीर पर पुष्पाजलि अर्पित करके शहीद को नम आंखों से अंतिम विदाई।
Next post आठवें अंतराष्ट्रीय योग दिवस पर भव्य योग कार्यक्रम का हुआ आयोजन ।