July 6, 2022

शुरू हुआ गैर संचारी रोग नियंत्रण के लिए स्क्रीनिंग अभियान

Advertisement
Advertisement

30 वर्ष से ऊपर के लोगों की हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पर होगी स्क्रीनिंग

पूरे जून चलेगा अभियान, 2.76 लाख लोगों की स्क्रीनिंग का लक्ष्य

वाराणसी/संसद वाणी

जिले में 30 वर्ष से ऊपर की महिलाओं और पुरुषों में गैर संचारी रोगों यथा उच्च रक्तचाप, मधुमेह, मुंह एवं स्तन कैंसर आदि की देखभाल के लिए बुधवार से गैर संचारी रोग स्क्रीनिंग अभियान शुरू हो गया है। यह अभियान 30 जून तक चलेगा। शासन से प्राप्त निर्देशानुसार जिले में इस अभियान के लिए 30 वर्ष से ऊपर के लोगों की कुल आबादी के 37 प्रतिशत यानि करीब 11.07 लाख लोग हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पर चिन्हित किए गए हैं। अभियान में करीब 2.76 लाख लोगों की स्क्रीनिंग का लक्ष्य रखा गया है।
मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) डॉ संदीप चौधरी ने कहा कि तेजी से पाँव पसार रहे गैर संचारी रोगों को लेकर स्वास्थ्य विभाग गंभीर है। जो बीमारियाँ पहले 40 से 50 वर्ष के लोगों को घेरती थीं, अब वह 30 वर्ष या उससे पहले ही चपेट में ले रही हैं। इसी को ध्यान में रखते हुए जिले के सभी 183 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर सहित 24 नगरीय पीएचसी पर गैर संचारी रोगों की रोकथाम व नियंत्रण के लिए 30 जून तक अभियान चलाया जाएगा। इस अभियान में 30 वर्ष से ऊपर के लोगों की स्क्रीनिंग की जाएगी जिससे समय रहते बीमारियों से ग्रसित होने वालों को उपचार और सही परामर्श मिल सके। सीएमओ ने कहा कि गैर संचारी रोग दबे पांव आते हैं। लोगों को पता भी नहीं होता है और वह इन बीमारियों की चपेट में आ जाते हैं। गुटखा, बीड़ी, तंबाकू के सेवन से मुंह के कैंसर के मरीज भी बढ़ रहे हैं। समय से पहले इन रोगों की जानकारी हो जाने पर उचित इलाज किया जा सकता है।
जिला सामुदायिक प्रक्रिया प्रबंधक (डीसीपीएम) रमेश प्रसाद वर्मा ने बताया कि जनपद में 30 वर्ष से ऊपर वालों की आबादी करीब 11.06 लाख है। वहीं अभियान में इस आबादी की 25 फीसदी यानि 2,76,760 लोगों की स्क्रीनिंग का लक्ष्य रखा गया है। इसके लिए हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर पर तैनात सामुदायिक स्वास्थ्य अधिकारी (सीएचओ) स्वास्थ्य कर्मियों की मदद से 30 साल की उम्र पार करने वालों में मुंह के कैंसर, स्तन एवं सर्वाइकल कैंसर, उच्च रक्तचाप, हाईपरटेंशन और डायबिटीज की जांच करेंगे, जिन मरीजों में इन रोगों की संभावना होगी, उनका विवरण फार्म में भरा जाएगा और ऐसे मरीजों को उच्च चिकित्सा इकाइयों के लिए रेफर किया जाएगा।
डीसीपीएम ने बताया कि यह अभियान कुल 207 हेल्थ एंड वेलनेस केन्द्रों पर संचालित किया जाएगा जिसमें ग्रामीण क्षेत्र के 183 सब सेंटर सहित 24 नगरीय पीएचसी शामिल हैं। अभियान के दौरान आशा कार्यकर्ता आवश्यक संख्या में 30 वर्ष से ऊपर की महिलाओं और पुरुषों को स्क्रीनिंग के लिए हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर, बुधवार और शनिवार को होने ग्राम स्वास्थ्य स्वच्छता दिवस (वीएचएनडी) पर जाने के लिए प्रेरित करेंगी। इसके अलावा आवश्यकता पड़ने पर दूरस्थ गांवों में स्क्रीनिंग कैंप भी लगाया जाएगा।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Previous post खुशखबरी: स्वास्थ्य विभाग की मेहनत रंग लाई
Next post काशी विश्वनाथ मंदिर परिसर में चेन चोरी करके भागने वाले चोर को चौक पुलिस ने किया गिरफ्तार।