July 6, 2022

विश्व मधुमक्खी दिवस पर एक संगोष्ठी का आयोजन किया गया

Advertisement
Advertisement

भदोही/संसद वाणी
आज दिनांक 20 मई 2022 को कृषि विज्ञान केंद्र ,भदोही एवं उद्यान विभाग, भदोही के संयुक्त तत्वाधान अस्नाव के जंगल स्थल पर विश्व मधुमक्खी दिवस पर एक संगोष्ठी का आयोजन किया गया ।इस कार्यक्रम में कृषि विज्ञान केंद्र के वरिष्ठ वैज्ञानिक एवं हेड विश्वेन्दु द्विवेदी ने कहां की किसानों की अपनी आय दोगुना करने के लिए किसानों को मधुमक्खी पालन , संवर्द्धन एवं संरक्षण पर ध्यान देना होगा । केंद्र के उद्यान विशेषज्ञ डॉ ए के चतुर्वेदी ने मधुमक्खियों को साल भर भोजन के लिए उपयुक्त सब्जियों, फलों एवं वृक्षों की खेती पर विस्तृत चर्चा की। केंद्र के पादप सुरक्षा विशेषज्ञ डॉक्टर मनोज कुमार पांडेय ने विश्व मधुमक्खी दिवस की महत्ता पर चर्चा करते हुए वैज्ञानिक मधुमक्खी पालन द्वारा आर्थिक उन्नयन पर जोर दिया ।साथ ही कहा कि प्रकृति में मौजूद विभिन्न अवयवों के बीच सामंजस्य बनाने की आवश्यकता है । साल भर मधुमक्खियों का भोजन मिलता रहे ऐसा सुनिश्चित प्लान किसानों को बनाना होगा। इसी क्रम में केंद्र के कृषि प्रसार विशेषज्ञ डॉक्टर आर.पी. चौधरी ने फसलों के परागण में मधुमक्खियों का योगदान तथा मधु के औषधि गुण पर चर्चा की। उद्यान विभाग भदोही से उद्यान निरीक्षक श्रीमती ममता मिश्रा ने मधुमक्खी पालन पर विभाग द्वारा संचालित योजनाओं पर चर्चा की । तथा जुड़कर लाभ लेने के लिए प्रेरित किया । मधुमक्खी पालक श्री सतीश कुमार पाल ने मौन पालन के अपने अनुभव को साझा किया। इस कार्यक्रम में उद्यान विभाग से धर्मेंद्र कुमार मौर्य, सुभाष सिंह, राम उजागिर सहित प्रगतिशील किसको में जवाहर गुप्ता, प्रदीप कुमार, अजय यादव ,रोहित पाल, धीरज कुमार ,पुष्पा देवी ,प्रमिला ,गीता देवी इत्यादि भारी संख्या में कृषक एवं कृषक महिलाएं ने सहभागिता किया।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Previous post विभिन्न मांगों को लेकर बीड़ीसी संघ ने सीडीओ को सौंपा ज्ञापन
Next post वरिष्ठ नेता एवं पूर्व कैबिनेट मंत्री मा.आजम खां साहब के जेल से रिहा होने पर खुशी।