June 30, 2022

चंदौली: वाहन चोरी करने वाले 5 सदस्य गिरफ्तार खास डिवाइस की मदद से देते है चोरी को अंजाम

Advertisement
Advertisement

चंदौली/संसद वाणी

स्वाट टीम और मुगलसराय पुलिस ने चार पहिया वाहन चोरी करने वाले गिरोह के पांच सदस्यों को पकड़ा है। इसी गिरोह ने बीते 27 अप्रैल को मुगलसराय के रविनगर इलाके से घर के बाहर खड़ी स्कार्पियो उड़ा दी थी। वाहन चोर एलएन- की और ओबीडी सेंसर के जरिए आसानी से वाहनों का लाक खोलते थे और गाड़ी स्टार्ट कर ले भागते थे। आरोपियों के पास से चोरी के तीन वाहन, तीन तमंचा, कारतूस, डिवाइस और मोबाइल बरामद किया गया।एसपी अंकुर अग्रवाल ने पुलिस लाइन में आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान पुलिस की इस कामयाबी को साझा करते हुए बताया कि स्वाट, सर्विलांस और मुगलसराय पुलिस ने करवत पड़ाव के पास से चार पहिया वाहन चोरी करने वाले गिरोह के पांच सदस्यों को गिरफ्तार किया। आरोपियों ने बताया कि उनका गिरोह विभिन्न स्थानों से एलएन की और ओबीडी सेंसर मशीन के जरिए चार पहिया वाहन का लाक तोड़कर उसे चोरी करता था। एलएन की के जरिए वाहनों का लाक आसानी से खुल जाता है। चोरी की गाड़ियों को कम दाम में बेचकर पैसा आपस में बांट लेते थे। जिस गाड़ी की चोरी करते हैं उसके आगे पीछे अन्य गाड़ियों से खुद भी चलते हैं और सुरक्षा के लिए तमंचा भी रखते हैं। सीसी टीवी कैमरे से बचने के लिए वाहनों का नंबर प्लेट हटाकर रखते थे। फरवरी माह में जैन मंदिर ओबरा में स्कार्पियो चोरी की और 27 अप्रैल को मुगलसराय के रविनगर इलाके से नई माडल स्कार्पियो उड़ा दी। पुलिस की नजर से बचने को बिहार का फर्जी नंबर प्लेट लगा दिया। एसपी ने बताया कि वाहन चोरों के खिलाफ गैंगेस्टर के तहत भी कार्रवाई की जाएगी। साथ ही पुलिस टीम को 25 हजार रुपये इनाम की घोषणा की गई है। पुलिस के हाथ लगे आरोपियों में इद्दू अंसारी ललिया पहाड़ झारखंड, सूर्यदूर यादव मंझौली पलामू झारखंड, अशरफ अली कुसडिहरा थाना रोहतास बिहार, दीपक उराव गड़वा झारखंड और मोख्तार अंसारी गड़वा झारखंड शामिल हैं। पुलिस और सर्विलांस टीम में शैलेंद्र प्रताप सिंह, आनंद कुमार, अमित यादव, घनश्याम वर्मा, महमूद आलम, रमेश यादव, अमित मिश्रा आदि शामिल रहे।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Previous post दो बाइक सवारों में हुई भिड़ंत, एक की मौत
Next post अपराध जोन बनता जा रहा मुगलसराय क्षेत्र,आए दिन हो रही चोरी की घटनाओं से बढ़ी दहशत।