July 1, 2022

मिशन शक्ति अभियान “4.0“ के अंतर्गत महिलाओं को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक किया जा रहा है।

Advertisement
Advertisement

आजमगढ़/संसद वाणी

महिला कल्याण विभाग के तत्वाधान में मिशन शक्ति अभियान “4.0“ के अंतर्गत विकास खण्ड बिलरियागंज के ग्राम पंचायत बिलरियागंज देहात, विकास खण्ड महराजगंज के ग्राम पंचायत प्रतापपुर, विकास खण्ड जहानागंज के ग्राम पंचायत शहरबस्ती एवं विकास खण्ड कोयलसा में मेगा इवेन्ट प्रधान सम्मेलन का आयोजन किया गया। महिला कल्याण विभाग की डीसी अन्नू सिंह द्वारा निराश्रित महिला पेंशन योजना के बारे में बताया गया कि पति मृत्यु उपरान्त निराश्रित महिला पेंशन योजनान्तर्गत पात्र निराश्रित महिलाओं को पेंशन उसके बैंक खाते में आनलाइन भुगतान किया जाता है। योजना में प्रति लाभार्थी 1000 रू0 प्रतिमाह पेंशन दी जाती है। वन स्टाप सेन्टर मैनेजर सरिता पाल द्वारा मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के बारे में बताया गया। उन्होने बताया कि यह योजना निर्धन परिवार के बेटियों के लिए संचालित हैं, इसके अन्तर्गत अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, अल्पसंख्यक, अन्य पिछड़ा वर्ग के साथ ही सामान्य वर्ग के निर्धन परिवार भी आवेदन कर सकते हैं। योजना का लाभ विधवा और तलाकशुदा भी उठा सकते हैं। इस योजनान्तर्गत एक जोड़े के विवाह पर कुल 51000 रू0 की धनराशि की व्यवस्था है। योजना का लाभ लेने के लिए फार्म को भरकर ग्राम पंचायत/नगर पंचायत/नगर पालिका अथवा जिला मुख्यालय पर जिला समाज कल्याण अधिकारी के कार्यालय पर जमा कर सकते हैं। उन्होंने बताया कि 1090 वूमेन पावर लाइन, 181 महिला हेल्पलाइन, 1076 मुख्यमंत्री हेल्पलाइन, 112 पुलिस आपातकालीन सेवा, 1098 चाइल्ड लाइन, 102 एम्बूलेंस सेवाएं एवं 108 एंबुलेंस सेवाएं महिलाओं की सुरक्षा के लिए जारी किए गए हैं। उन्होंने बताया कि मिशन शक्ति अभियान “4.0“ के अंतर्गत महिलाओं को उनके अधिकारों के प्रति जागरूक किया जा रहा है और पहले से अब महिलाओं में काफी बदलाव आ रहा है। इस अवसर पर महिला कल्याण विभाग की रिंकी देवी, रंजना मिश्रा, पिंकी सिंह, ममता यादव उपस्थित रहे।

Advertisement

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Previous post लोक निर्माण विभाग की 100 दिनों की कार्ययोजना प्राप्त कर सभी सीडीओ टाइमिंग फिक्स करें: मण्डलायुक्त
Next post भारत में अलग-अलग पंथ और समुदाय हैं, परन्तु ये विभाजन के लिए नहीं हैं-योगी आदित्यनाथ